Ad1

Ad2

P28, Gurudev Prayer "सतगुरु दाता सतगुरु दाता,..." महर्षि मेंहीं पदावली अर्थ सहित

महर्षि मेंहीं पदावली / 28

      प्रभु प्रेमियों ! संतवाणी अर्थ सहित में आज हम लोग जानेंगे- संतमत सत्संग के महान प्रचारक सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज के भारती (हिंदी) पुस्तक "महर्षि मेंहीं पदावली" जो हम संतमतानुयाइयों के लिए गुरु-गीता के समान अनमोल कृति है। इस कृति के 28वां, पद्य- "सतगुरु दाता सतगुरु दाता,..." का शब्दार्थ, भावार्थ और टिप्पणी के  बारे में। जिसे पूज्यपाद लालदास जी महाराज नेे किया है।
इस सद्गुरु भजन (कविता, पद्य, वाणी, छंद, भजन) "सतगुरु दाता सतगुरु दाता,..." में बताया गया है कि- Satguru dayalu mere prathana, Satguru Data Bade Dayalu,सतगुरु भजन,सतगुरु दाता आफ विधाता,दास भक्ति मुक्ति के दाता सतगुरु,मेरे सतगुरु दाता पाई हो,Nirguni Bhajan,सतगुरु भगवान का भजन,सतगुरु वाणी,सतगुरु जी का भजन,सतगुरु के भजन हिंदी में,पुकार, Satguru Sun Le Meri Pukar, गुरु जी सुन लो मेरी पुकार,गुरु की पुकार,गुरु कहे पुकार पुकार,दिल की पुकार, आदि।


इस पद्य के  पहले वाले पद्य को पढ़ने के लिए  

P28, Gurudev Prayer  "सतगुरु दाता सतगुरु दाता,..." महर्षि मेंहीं पदावली अर्थ सहित। सद्गुरु महर्षि मेंहीं और टीकाकार लाल दास जी महाराज।
सद्गुरु महर्षि मेंहीं और टीकाकार- लाल दास जी महाराज

Gurudev Prayer  "सतगुरु दाता सतगुरु दाता

सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज जी  कहते हैं- "हे मेरे स्वामी, तात (भाई-बंधु) और पितारूप दाता सतगुरु! आप मेरी प्रार्थना सुन लीजिए। आप बड़े ही दयालु, सब कुछ देने में समर्थ, सुखदाई, पापकर्मों से छुड़ाने वाले और हृदय में अपार कृपा रखने वाले हैं।..." इस विषय में पूरी जानकारी के लिए इस भजन का शब्दार्थ, भावार्थ और टिप्पणी किया गया है। उसे पढ़ें-
P28, Gurudev Prayer  "सतगुरु दाता सतगुरु दाता,..." महर्षि मेंहीं पदावली अर्थ सहित। भजन- सतगुरु दाता सतगुरु दाता।
भजन- सतगुरु दाता सतगुरु दाता

P28, Gurudev Prayer  "सतगुरु दाता सतगुरु दाता,..." महर्षि मेंहीं पदावली अर्थ सहित। पदावली भजन 28 शब्दार्थ।
पदावली भजन 28 शब्दार्थ।

P28, Gurudev Prayer  "सतगुरु दाता सतगुरु दाता,..." महर्षि मेंहीं पदावली अर्थ सहित। पदावली भजन 28, शब्दार्थ भावार्थ।
पदावली भजन 28, शब्दार्थ-भावार्थ।

P28, Gurudev Prayer  "सतगुरु दाता सतगुरु दाता,..." महर्षि मेंहीं पदावली अर्थ सहित। पदावली भजन 28 भावार्थ टिप्पणी।
पदावली भजन 28, भावार्थ टिप्पणी।

P28, Gurudev Prayer  "सतगुरु दाता सतगुरु दाता,..." महर्षि मेंहीं पदावली अर्थ सहित। पदावली भजन 28, शेष टिप्पणी।
पदावली भजन 28, शेष  टिप्पणी।

इस पद्य के  बाद वाले पद्य को पढ़ने के लिए   यहां दबाएं।

प्रभु प्रेमियों !  "महर्षि मेंहीं पदावली शब्दार्थ, भावार्थ और टिप्पणी सहित" नामक पुस्तक  से इस भजन के शब्दार्थ, भावार्थ और टिप्पणी द्वारा आपने जाना कि meditation benefits,meditation techniques for beginners,meditation guided,mindfulness meditation, इतनी जानकारी के बाद भी अगर आपके मन में किसी प्रकार का शंका या कोई प्रश्न है, तो हमें कमेंट करें। इस लेख के बारे में अपने इष्ट-मित्रों को भी बता दें, जिससे वे भी इससे लाभ उठा सकें। सत्संग ध्यान ब्लॉग का सदस्य बने। इससे आपको आने वाले  पोस्ट की सूचना नि:शुल्क मिलती रहेगी। इस पद्य का पाठ किया गया है उसे सुननेे के लिए निम्नांकित वीडियो देखें।



अगर आप 'महर्षि मेंहीं पदावली' पुस्तक के अन्य पद्यों के अर्थों के बारे में जानना चाहते हैं या इस पुस्तक के बारे में विशेष रूप से जानना चाहते हैं तो     यहां दबाएं। 
गुरु महाराज की सभी पुस्तकों एवं संतमत से प्रकाशित अन्य पुस्तकें एवं सत्संग ध्यान से संबंधित अन्य सामग्री के लिए हमारे सत्संग ध्यान ऑनलाइन स्टोर पर पधारने के लिए    यहां दबाएं

सत्संग ध्यान संतवाणी ब्लॉक की अन्य संतवाणीयों के अर्थ सहित सूची के लिए    यहां दवाएं

सत्संग ध्यान स्टोर पर पुस्तकों की सूची के लिए
 यहां दवाएं

P28, Gurudev Prayer "सतगुरु दाता सतगुरु दाता,..." महर्षि मेंहीं पदावली अर्थ सहित P28, Gurudev Prayer  "सतगुरु दाता सतगुरु दाता,..." महर्षि मेंहीं पदावली अर्थ सहित Reviewed by सत्संग ध्यान on 12/16/2019 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

कृपया सत्संग ध्यान से संबंधित किसी विषय पर जानकारी या अन्य सहायता के लिए टिप्पणी करें।

Ads 5

Blogger द्वारा संचालित.