Ad1

Ad4

1/06/2018

P09, Stuti-vinati of santmat satsang, "प्रेम-भक्ति गुरु दीजिये,...'' महर्षि मेंहीं पदावली भजन अर्थ सहित

 महर्षि मेंहीं पदावली / 09

     प्रभु प्रेमियों ! संतवाणी अर्थ सहित में आज हम लोग जानेंगे- संतमत सत्संग के महान प्रचारक सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज के भारती (हिंदी) पुस्तक "महर्षि मेंहीं पदावली" जो हम संतमतानुयाइयों के लिए गुरु-गीता के समान अनमोल कृति है। इस कृति के 09 वें पद्य  "प्रेम-भक्ति गुरु दीजिये,....''  का शब्दार्थ, भावार्थ और टिप्पणी के  बारे में। जिसे पूज्यपाद लालदास जी महाराज नेे किया है। इस संतमत स्तुति  ( कविता, पद्य, वाणी ) की विशेषता यह है कि इसमेें-  प्रभु प्राप्ति के उपाय,प्रभु प्राप्ति का रास्ता,भगवान प्राप्ति के उपाय,ईश्वर प्राप्ति के उपाय,ईश्वर प्राप्ति के मार्ग,नाद उपासना,ब्रह्म नाद क्या है,नाद योग के लाभ,शब्द ब्रह्म नाद ब्रह्म, नादब्रह्म मेडिटेशन,वैज्ञानिक ध्यान,नाद ब्रह्म ध्यान, आदि पर विशेष रूप से चर्चा हुई है ।

इस पद्य के  पहले वाले पद्य को पढ़ने के लिए   यहां दबाएं

अपराह्न एवं सायं कालीन स्तुति में इस पद के पहले (इस पद को गाने के पहले) संत-स्तुति का गान किया जाता है। उसे पढ़ने के लिए     यहां दबाएं।


P09, Stuti-vinati of santmat satsang, "प्रेम-भक्ति गुरु दीजिये,...'' महर्षि मेंहीं पदावली भजन अर्थ सहित। संतो के मध्य सद्गुरु महर्षि मेंही और टीकाकार बगल में
संतो के मध्य सद्गुरु महर्षि मेंहीं और टीकाकार बगल में

 Stuti-vinati of santmat satsang, "प्रेम-भक्ति गुरु दीजिये,...'

सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज जी  कहते हैं- "हे गुरुदेव !  आप अपने चरणों की प्रेम पूर्वक सेवा करने की भावना मेरे हृदय में दीजिए। मैं हाथ जोड़कर आपसे यह भी प्रार्थना करता हूं कि आप मेरे प्रति पल-पल रहने वाले अपने स्नेह को भी कभी नहीं हटाइए। हे गुरुदेव ! आप और भी मेरी प्रार्थनाएं सुन लीजिए।.।.Stuti-vinati of santmat satsang, "प्रेम-भक्ति गुरु दीजिये...." इस विषय में पूरी जानकारी के लिए इस भजन का शब्दार्थ, भावार्थ और टिप्पणी किया गया है। उसे पढ़े-

P09, Stuti-vinati of santmat satsang, "प्रेम-भक्ति गुरु दीजिये,...'' महर्षि मेंहीं पदावली भजन अर्थ सहित। पदावली पद्य 9 और शब्दार्थ
पदाबली पद 9 और शब्दार्थ

P09, Stuti-vinati of santmat satsang, "प्रेम-भक्ति गुरु दीजिये,...'' महर्षि मेंहीं पदावली भजन अर्थ सहित। पदावली पद 9 का शब्दार्थ
पदावली पद 9 का शब्दार्थ

P09, Stuti-vinati of santmat satsang, "प्रेम-भक्ति गुरु दीजिये,...'' महर्षि मेंहीं पदावली भजन अर्थ सहित। पदावली पद्य 9 का भावार्थ
पदावली पद 9 का भावार्थ

P09, Stuti-vinati of santmat satsang, "प्रेम-भक्ति गुरु दीजिये,...'' महर्षि मेंहीं पदावली भजन अर्थ सहित। पदावली पद्य 9 का टिप्पणी
पदावली पद 9 का टिप्पणी

इस पद्य के  बाद वाले पद्य को पढ़ने के लिए   यहां दबाएं

P09, Stuti-vinati of santmat satsang, "प्रेम-भक्ति गुरु दीजिये,...'' महर्षि मेंहीं पदावली भजन अर्थ सहित। टीकाकार का संक्षिप्त परिचय
टीकाकार का संक्षिप्त परिचय

 अपराह्न कालीन सत्संग के बाद रामचरितमानस का कोई प्रसंग पाठ किया जाता है । फिर उस पर ब्याख्या किया जाता है। गुरु महाराज के प्रवचनों द्वारा उन ब्याख्याओं को पढ़ने के लिए आप      यहां दवाएं।

     प्रभु प्रेमियों ! संतमत सत्संग के तीनों समय के सत्संग के अंत में आरती के दो पद्य एक संत तुलसी साहब की और एक गुरु महाराज की बनाई आरती गाई जाती है।  आरती के उन दोनों पद्यों तक पहुंचने के लिए आप  यहां दवाएं

   प्रभु प्रेमियों ! इन तीन पोस्टों द्वारा संतमत सत्संग की अपराह्न+सायंकलीन स्तुति-विनती को आप लोग अच्छी तरह समझ गए होंगे, ऐसा हम आशा करते हैं  इतनी जानकारी के बाद भी अगर आपके मन में किसी प्रकार का शंका या कोई प्रश्न है, तो हमें कमेंट करें। इस लेख के बारे में अपने इष्ट-मित्रों को भी बता दें, जिससे वे भी इससे लाभ उठा सकें। सत्संग ध्यान ब्लॉग का सदस्य बने। इससे आपको आने वाले  पोस्ट की सूचना नि:शुल्क मिलती रहेगी। इस पद्य का पाठ किया गया है उसे सुननेे के लिए निम्नांकित वीडियो देखें । जय गुरु महाराज।


अगर आप 'महर्षि मेंहीं पदावली' पुस्तक के अन्य पद्यों के अर्थों के बारे में जानना चाहते हैं या इस पुस्तक के बारे में विशेष रूप से जानना चाहते हैं तो     यहां दबाएं। 

गुरु महाराज की सभी पुस्तकों एवं संतमत से प्रकाशित अन्य पुस्तकें एवं सत्संग ध्यान से संबंधित अन्य सामग्री के लिए हमारे सत्संग ध्यान ऑनलाइन स्टोर पर पधारने के लिए    यहां दबाएं

सत्संग ध्यान स्टोर पर पुस्तकों की सूची के लिए
 यहां दवाएं

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

कृपया सत्संग ध्यान से संबंधित किसी विषय पर जानकारी या अन्य सहायता के लिए टिप्पणी करें।

Comments system

[blogger]

Disqus Shortname

msora

Ad3

Blogger द्वारा संचालित.